ऐसा तो क्या हुआ की हार्दिक पांड्या बिच मैदान में रो पड़े।

लाइव इंटरव्यू में फूट-फूट कर रो पड़े हार्दिक: पिता को याद कर छलक पड़े आंखों से छलक पड़े आंसू, कहा- ‘मेरे पापा जिंदा होते तो आज मैं बहुत खुश होता’

हार्दिक पांड्या ने टी20 वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के खिलाफ भारतीय टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई थी. हार्दिक ने पहली गेंद से शानदार प्रदर्शन करते हुए तीन विकेट लिए. फिर बल्ले से 40 रन की अहम पारी खेली. टीम इंडिया की जीत के बाद हार्दिक पांड्या काफी भावुक हो गए थे। उन्होंने अपने दिवंगत पिता को भी याद किया।

टी20 वर्ल्ड कप 2022 में भारतीय टीम ने पाकिस्तान को चार विकेट से हराया था। भारतीय टीम ने आखिरी गेंद पर जीत के लिए 160 रन के लक्ष्य को हासिल कर लिया। भारत की जीत में हार्दिक पांड्या ने अहम भूमिका निभाई। हार्दिक ने पहली गेंद से शानदार प्रदर्शन करते हुए तीन विकेट लिए. फिर बल्ले से 40 रन की अहम पारी खेली.

हार्दिक पांड्या और कोहली के बीच शतकीय साझेदारी के परिणामस्वरूप भारतीय टीम को जीत मिली। हार्दिक और कोहली ने पांचवें विकेट के लिए 113 रन की साझेदारी की। मैच के बाद भावुक हुए हार्दिक पांड्या और अपने दिवंगत पिता को भी याद किया।

मेरे पिता ने कई कुर्बानियां दीं हार्दिक पांड्या ने कहा- ‘मैंने राहुल सर से मैच से पहले कहा था कि मैं दस महीने पहले कहां था और अब कहां हूं यह बड़ी बात है। मैं इसके लिए कड़ी मेहनत कर रहा हूं। यह पारी मेरे पिता के लिए है। अगर वे यहां होते तो उन्हें बहुत खुशी होती। अगर मुझे खेलने का मौका नहीं मिलता तो मैं यहां कैसे होता। मेरे पिता ने कई बलिदान दिए हैं। उसने हमारे लिए दूसरे शहर जाने का फैसला किया। जब मैं और मेरा भाई छह साल के थे, तब उन्होंने शहर बदल दिया। मैं हमेशा पिता का आभारी रहूंगा’।

हार्दिक पांड्या ने कहा- ‘आज पहला मैच था इसलिए यह काफी अहम था और वह भी पाकिस्तान के खिलाफ। भले ही विराट और मैंने अच्छा प्रदर्शन किया, लेकिन सभी ने जीत में योगदान दिया। अर्शदीप, शमी, भुवनेश्वर की गेंदबाजी शानदार थी। सूर्या के चौके अहम थे’।

हार्दिक के पिता का पिछले साल निधन हो गया था हार्दिक पांड्या के पिता हिमांशु पांड्या का पिछले साल निधन हो गया था। हार्दिक और क्रुणाल पांड्या को क्रिकेटर बनाने में हिमांशु पांड्या का योगदान अहम था। हिमांशु पंड्या ने भी अपना धंधा बंद कर दोनों भाइयों को क्रिकेटर बनाने के लिए दूसरे शहर में बस गए। ताकि उनके दोनों बेटों को अच्छी क्रिकेट सुविधा मिले।

भारत-पाकिस्तान का मैच शानदार रहा

पाकिस्तान ने भारत को जीत के लिए 160 रन का लक्ष्य दिया। पाकिस्तान टीम के लिए शान मसूद ने सर्वाधिक 52 रन का योगदान दिया। इफ्तिखार अहमद ने 34 गेंदों में 51 रन की पारी खेली. अर्शदीप और हार्दिक दोनों ही भारतीय टीम के लिए कारगर साबित हुए। अर्शदीप और हार्दिक ने तीन-तीन विकेट लिए।

160 रनों का पीछा करने उतरी भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही. भारत ने रोहित शर्मा और केएल राहुल के विकेट जल्दी गंवा दिए। उसके बाद कोहली और पांड्या की साझेदारी ने मैच की दिशा ही बदल दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *